भाग्यांक - Bhagyank

अंकशास्त्र द्वारा भविष्यफल जानने के लिए भाग्यांक (Numerology by Date of Birth in Hindi) को एक महत्वपूर्ण अंक माना जाता है। भाग्यांक जातक की जन्म तिथि, जन्म माह तथा जन्म वर्ष का योग(जोड़) होता है।

Free Numerology Calculator: अपना भाग्यांक और भाग्यांक अनुसार भविष्यफल जानने के लिए नीचे दिए गए बॉक्स में अपना जन्म विवरण भरें:

कैसे जानें अपना भाग्यांक (Calculate Numerology Number) : भाग्यांक जानने के लिए अपनी जन्मतिथि को अंको में लिखें और फिर सभी अंको को जोड़ कर एक इकाई अंक प्राप्त करें।

जैसे यदि आपकी जन्मतिथि 21 अप्रैल, 1990 (21-4-1990) है तो आपका भाग्यांक निम्न पद्धति द्वारा निकाला जाएगा: 2+1+4+1+9+9+0= 26=2+6=8 आपका भाग्यांक 8 है।

क्यों किया जाता है अंक ज्योतिष का प्रयोग?

अंक ज्योतिष का उपयोग विशेष रूप से अंकों के जरिए मनुष्य के भविष्य की जानकारी जानने के लिए किया जाता है। अंक ज्योतिष की मदद से भविष्य को जानने के लिए ज्योतिषशास्त्र के नौ ग्रहों (सूर्य, चंद्र, गुरु, राहु, केतु, बुध, शुक्र, शनि और मंगल) के साथ मेल करें। आपको बता दें 1 से 9 तक के हर एक अंक को 9 ग्रहों का रूप मानते हैं, इसके अनुसार ही ये जानकारी मिलती है कि किस ग्रह पर कौन सा अंक असरदार है। इंसान के जन्म के बाद ग्रहों की स्थिति देखकर उसके व्यक्तित्व की जानकारी मिलती है। इसलिए जन्म के बाद मनुष्य पर अंक का प्रभाव अधिक होता है। ऐसा कहा जाता है कि दो व्यक्तियों का मूलांक एक जैसा होता है तो दोनों के बीच तालमेल अच्छा होता है।


नामांक बताएगा आपका भविष्य

नामांक भविष्यफल जानने का आसान तरीका
माना जाता है। अपना नामांक जानने के
लिए यहां अपना नाम दर्ज करें

Baby name