मुहूर्त - Muhurat

हिंदू संस्कृति एक ऐसी संस्कृति है जहां लोग कोई भी बड़ा काम करने से पहले शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) जरूर देखते हैं या अपने पंडित से दिखवाते हैं। शुभ समय (Shubh Samay) या शुभ मुहूर्त वह समय है जिसमें ग्रह और नक्षत्र मनुष्य के लिए अच्छे या फलदायक होते हैं। आपको बता दें शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat Today) के साथ किया गया कार्य बिना किसी रुकावट के सफल माना जाता है। एक ही दिन में तीस शुभ मुहूर्त होते हैं। आसान शब्दों में कहें तो, शुभ मुहूर्त का अर्थ होता है जरूरी कार्यों में एक अच्छा परिणाम प्राप्त करना। रफ़्तार में मुहूर्त श्रेणी में आप पढ़ेंगे अभिजीत मुहूर्त (Abhijit Muhurat), चौघड़िया मुहूर्त (Choghadiya Muhurat), राहुकाल (Rahu kaal), दिन का चौघड़िया (Din Ka Choghadiya), रात का चौघड़िया (Rat Ka Choghadiya).

तिथि:Saturday 26 Sep, 2020

सूर्योदय का समय : 06:12 AM

सूर्यास्त का समय : 06:14 PM


आपका राज्य / Your State:
आपका शहर / Your City:
आपका देश / Your Country:
आपका शहर / Your City:

अभिजीत मुहूर्त - Abhijit Muhurat

अभिजीत मुहूर्त
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अभिजीत मुहूर्त (Abhijit Muhurat) दिन का सर्वाधिक शुभ मुहूर्त माना जाता है। प्रत्येक दिन का आठवां मुहूर्त अभिजीत मुहूर्त कहलाता है। सामान्यत: यह 45 मिनट का होता है। हालांकि इसकी समयावधि सूर्योदय (Sunrise) और सूर्यास्त (Sunset) पर निर्भर करती है।
ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यदि अभिजीत मुहूर्त में पूजन कर कोई भी शुभ मनोकामना की जाए तो वह निश्चित रूप से पूरी होती है।
विशेष: नारदपुराण के अनुसार अभिजीत मुहूर्त यात्रा या शुभ काम के लिए घर से निकलने का शुभ काल होता है। इस काल में यदि पंचाग (Panchang) या काल शुभ न हो तो भी यात्रा उत्तम फल देने वाली होती है। अभिजीत मुहूर्त के दौरान दक्षिण दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए।

Abhijit Muhurat Starts at 12:11 PM
Abhijit Muhurat Ends at 12:15 PM

राहुकाल - Rahukal

राहुकाल  मुहूर्त
प्रत्येक दिन सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच के कुल समय का आठवां भाग राहुकाल (Rahukal) कहलाता है। राहुकाल से जुड़ी अन्य जानकारियां:
* अधिकतर राहुकाल का समय डेढ़ घंटा होता है।
* इस समय में किसी भी प्रकार का शुभ कार्य शुरु नहीं किया जाता।
* राहुकाल की गणना सूर्योदय के समयानुसार की जाती है।

Rahukal Starts at 09:11 am
Rahukal Ends at 10:43 am

चौघड़िया मुहूर्त - Choghadiya Muhurat

चौघड़िया मुहूर्त्त
चौघड़िया मुहूर्त्त (Choghadiya Muhurat) ज्योतिष की एक ऐसी तालिका है जो कि खगोलिय स्थिति के आधार पर दिन के 24 घंटों की दशा बताती है. जब कभी शीघ्रता में कोई मुहूर्त्त नहीं मिलता हो और अचानक कोई शुभ कार्य आरम्भ करना पड़े तो, उस समय चौघड़िया मुहूर्त्त का उपयोग करना श्रेयस्कर रहता है. चौघड़िया (Choghadiya) मुहूर्त्त मुख्यतः 7 प्रकार के होते हैं जो कि क्रमशः उद्योग, अमृत, रोग, लाभ, शुभ, चर और काल हैं. दिन का चौघड़िया -Din Ka Choghadiya), रात का चौघड़िया (Rat Ka Choghadiya).

दिन का चौघड़िया - Din Ka Choghadiya

काल (Kaal) 06:12:00 am
शुभ (Shubh) 07:42:15 am
रोग (Rog) 09:12:30 am
उद्वेग (Udveg) 10:42:45 am
चर (Char) 12:13:00 pm
लाभ (Labh) 01:43:15 pm
अमृत (Amrit) 03:13:30 pm
काल (Kaal) 04:43:45 pm

रात का चौघड़िया - Rat Ka Choghadiya

लाभ(Labh) 06:14:00 pm
उद्वेग(Udveg) 07:43:52 pm
शुभ(Shubh) 09:13:45 pm
अमृत(Amrit) 10:43:37 pm
चर(Char) 12:13:30 am
रोग(Rog) 01:43:22 am
काल(Kaal) 03:13:15 am
लाभ(Labh) 04:43:07 am

शुभ, लाभ और अमृत शुभ चौघड़िया यानि शुभ काल होते है। उद्वेग, रोग और काल को अशुभ चौघड़िया यानि अशुभ समय माना जाता है। चर को सामान्य चौघड़िया माना जाता है।


नामांक बताएगा आपका भविष्य

नामांक भविष्यफल जानने का आसान तरीका
माना जाता है। अपना नामांक जानने के
लिए यहां अपना नाम दर्ज करें

Baby name